मुख्य समाचारः

सम्पर्कःeduployment@gmail.com

13 जुलाई 2011

मध्यप्रदेशःशून्य बजट के स्कूल समाप्त,ज़िले में खुलेंगे आयुष स्कंध

प्रदेश में शून्य बजट के आठ स्कूलों के शिक्षकों के पद स्वीकृत करने के निर्णय के बाद अब शून्य बजट के स्कूल समाप्त हो गए हैं। यह महत्वपूर्ण निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक में लिया गया है। बैठक में 160 हाई स्कूलों को हायर सेकेंडरी में उन्नयन कर और उनमें विभिन्न संवर्गों के 2080 पदों को स्वीकृत करने का भी निर्णय लिया गया है। इन स्वीकृत पदों में 160 प्राचार्य, संविदा शाला शिक्षक वर्ग-1 के 1280, वर्ग-3 (विज्ञान सहायक अध्यापक) के 320, वर्ग-3 (शारीरिक शिक्षा सहायक अध्यापक) के 160 एवं सहायक ग्रेड-2 के 160 पद शामिल हैं। इसी प्रकार राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान में 341 उन्नत हाई स्कूलों में संविदा शाला शिक्षक वर्ग-2 के 341 पदों को स्वीकृति प्रदान की गई है।
मंत्रिपरिषद की बैठक में अन्य महत्वपूर्ण प्रस्तावों को स्वीकृत किया गया, जिनमें जिला एलोपैथी चिकित्सालयों में आयुष करने विंग्स शुरू करने के प्रस्ताव को हरी झंडी दी गई है। प्रस्ताव के अनुसार 18 जिला चिकित्सालयों में प्रति आयुष विंग्स को 6 पदों की दर से पदों की स्वीकृति दी है। इन पदों की स्वीकृति मिलते ही 36 जिलों में आयुष विंग्स का कार्य सुचारू रूप से संचालित हो जाएगा(दैनिक जागरण,भोपाल,13.7.11)।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी के बगैर भी इस ब्लॉग पर सृजन जारी रहेगा। फिर भी,सुझाव और आलोचनाएं आमंत्रित हैं।