मुख्य समाचारः

सम्पर्कःeduployment@gmail.com

11 अगस्त 2011

सीबीएसईःअब स्टूडेंट्स भरेंगे फीडबैक फॉर्म

सीबीएसई की ग्रेडिंग प्रणाली सीसीई (सतत समग्र मूल्यांकन) से स्टूडेंट्स कितने फ्रेंडली हुए, उससे स्टूडेंट्स को क्या फायदा हुआ या क्या दिक्कत आ रही है, इस बारे में स्टूडेंट्स अब अपनी बात बेबाक तरीके से बोर्ड के सामने रख सकते हैं। इसके साथ ही वे बोर्ड की कार्यप्रणाली पर अपनी प्रतिक्रिया भी दे सकते हैं।

इसके लिए सीबीएसई ने स्टूडेंट्स से 5 प्रश्नों के रूप में फीडबैक मांगा है। सीबीएसई ने सीसीई के लिए पहले सीसीई स्पेशल रिसर्च सेंटर बनाया फिर शुरुआती दौर में पेरेंट्स और एजुकेशनल एक्सपर्ट्स का फीडबैक लिया। शहर के सीबीएसई स्कूलों के प्राचार्यो के अनुसार फॉर्म का सिस्टम इसलिए है कि हर स्टूडेंट को अपनी बात कहने का पूरा मौका मिले।


फीडबैक के लिए 9,10 और 11वीं के स्टूडेंट्स को चुना गया है। इसमें ऑनलाइन पांच प्रश्न दिए हैं। जिसे भरकर ऑनलाइन भेजना है। इसे भेजने की अंतिम तिथि 1 सितंबर है। अप्रैल, 2011 से सीबीएसई ने सतत समग्र मूल्यांकन प्रणाली कक्षा 6,7 और 8 में भी लागू कर दी है।

ये 5 प्रश्न हैं फीडबैक ऑनलाइन फॉर्म में

1.क्या सीसीई आपके मूल्यांकन का सही तरीका है?

2.क्या मार्क्‍स आपकी क्षमताओं को सही तरीके से प्रदर्शित कर पाता है?

3.क्या सीसीई आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है?

4.सीसीई के बाद आपका तनाव कुछ कम हुआ है?

5.क्या सीसीई और ज्यादा सीखने के लिए प्रोत्साहित करता है?

इन सवालों का जवाब देते हुए हां, ना या कारण बताना है(दैनिक भास्कर,भोपाल,11.8.11)।

1 टिप्पणी:

टिप्पणी के बगैर भी इस ब्लॉग पर सृजन जारी रहेगा। फिर भी,सुझाव और आलोचनाएं आमंत्रित हैं।