मुख्य समाचारः

सम्पर्कःeduployment@gmail.com

08 अगस्त 2011

डीयू में मदिरापान के खिलाफ अभियान आज से

दिल्ली विश्वविद्यालय परिसर में मदिरापान पर अंकुश लगाने के लिए दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर विश्वविद्यालय प्रशासन विशेष अभियान चलाने जा रहा है। सोमवार से शुरू हो रहे इस अभियान के तहत हॉस्टल, कॉलेज व विश्वविद्यालयों की पार्किग, रिज क्षेत्र, आर्ट्स व लॉ फैकल्टी पर खास नजर रहेगी।

विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से उठाए जा रहे इस कदम का मूल उद्देश्य कैम्पस को मद्यपान फ्री बनाना और छात्रसंघ चुनावों के दौरान वोट के लिए चलने वाली दारू पार्टी पर रोक लगाना है।

विश्वविद्यालय की ओर से जारी छात्रसंघ चुनाव कार्यक्रम के तहत आगामी 9 सितम्बर को मतदान होने जा रहा है। इससे पहले पूरे महीने तमाम छात्र नेताओं की ओर से अपने पक्ष में समर्थन जुटाने के लिए अक्सर प्रचार अभियान के साथ-साथ देर रात तक दारू पार्टी का आयोजन किया जाता है। इस पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से इस बार विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर कार्यालय ने पहले से ही कमर कस ली है।

डिप्टी प्रॉक्टर डॉ. मनोज अरोड़ा ने बताया कि पहली बार दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर हमारी टीमें इस तरह का औचक निरीक्षण करने जा रही हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस अधिकारियों के साथ बीते दिनों हुई एक बैठक में इस बाबत फैसला लिया गया था।


डॉ अरोड़ा ने बताया कि पुलिस के साथ मिलकर डीयू के सुरक्षाकर्मी किसी भी समय में कैम्पस का दौरा कर सकते है। 

इस दौरान हमारी नजर कैम्पस की विभिन्न पार्किगों पर खासतौर पर रहने जा रही है क्योंकि ज्यादातर पार्टीबाजी इन्हीं जगहों पर चलती है। इसके अलावा आर्ट्स फैकल्टी, लॉ फैकल्टी, निरुलाज, एसओएल के आसपास, रिज एरिया से जुड़ी कैम्पस की सड़कों पर भी नजर रहेगी। 

कार्रवाई के विषय में पूछे जाने पर डॉ.अरोड़ा ने बताया कि यदि कोई व्यक्ति चाहे वह डीयू का छात्र हो या फिर बाहरी शराब पीता पकड़ा गया तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने का कहा कि विद्यार्थियों और बाहरियों को उनकी सलाह है कि वह ऐसी हरकत कैम्पस में अंजाम न दें वर्ना उनके साथ होने वाली कार्रवाई के लिए वे खुद जिम्मेदार होंगे(शैलेन्द्र सिंह,दैनिक भास्कर,दिल्ली,8.8.11)।

1 टिप्पणी:

  1. Nice post .

    हमारी कामना है कि आप हिंदी की सेवा यूं ही करते रहें। ब्लॉगर्स मीट वीकली में आप सादर आमंत्रित हैं।
    बेहतर है कि ब्लॉगर्स मीट ब्लॉग पर आयोजित हुआ करे ताकि सारी दुनिया के कोने कोने से ब्लॉगर्स एक मंच पर जमा हो सकें और विश्व को सही दिशा देने के लिए अपने विचार आपस में साझा कर सकें। इसमें बिना किसी भेदभाव के हरेक आय और हरेक आयु के ब्लॉगर्स सम्मानपूर्वक शामिल हो सकते हैं। ब्लॉग पर आयोजित होने वाली मीट में वे ब्लॉगर्स भी आ सकती हैं / आ सकते हैं जो कि किसी वजह से अजनबियों से रू ब रू नहीं होना चाहते।

    उत्तर देंहटाएं

टिप्पणी के बगैर भी इस ब्लॉग पर सृजन जारी रहेगा। फिर भी,सुझाव और आलोचनाएं आमंत्रित हैं।