मुख्य समाचारः

सम्पर्कःeduployment@gmail.com

17 नवंबर 2011

सीबीएसई इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा फीस बढ़ी

आईआईटी के बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने भी इंजीनियरिंग में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली देशव्यापी संयुक्त प्रवेश परीक्षा का शुल्क बढ़ा दिया है। इसका सबसे ज्यादा असर उन छात्रों पर पड़ेगा, जो इस परीक्षा के लिए विदेशी केंद्रों को चुनने जा रहे हैं। ऑल इंडिया इंजीनियरिंग-आर्किटेक्चर एंट्रेस एक्जाम 2012 के लिए मंगलवार से शुरू हुई आवेदन प्रक्रिया के तहत परीक्षा शुल्क में 50 से 600 रुपये तक का इजाफा किया गया है।

हालांकि, बोर्ड ने ऑनलाइन परीक्षा शुल्क ऑफलाइन के मुकाबले काफी कम रखा है। ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से होगी परीक्षा एआईईईई की परीक्षा ऑनलाइन और ऑफलाइन दो तरह से आयोजित की जाती है। पिछले साल केवल बीई/बीटेक के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन परीक्षा आयोजित की गई थी, लेकिन इस बार बीआर्क/बी प्लानिंग की भी ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की जाएगी।


ये है एआईईईई का परीक्षा कार्यक्रम : एआईईईई-2012 की ऑफलाइन (पेपर-पेंसिल) परीक्षा का आयोजन 29 अप्रैल 2012 को तथा ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन 7 से 26 मई 2012 के बीच होगा। परीक्षा में बैठने के इच्छुक छात्रों के लिए इस बार ऑनलाइन आवेदन की सुविधा उपलब्ध है, जो 15 नवंबर से शुरू हो गई और 31 दिसंबर 2011 तक चलेगी। छात्र आवेदन शुल्क का भुगतान क्रेडिट व डेबिट कॉर्ड से तथा डिमांड ड्रॉफ्ट दोनों ही माध्यमों से कर सकते हैं।

विदेशी केंद्रों पर सबसे ज्यादा शुल्क : विदेशी केंद्रों पर ऑफलाइन परीक्षा के लिए जनरल/ओबीसी के विद्यार्थियों के लिए एक परीक्षा देने के शुल्क में 600 रुपये का इजाफा कर 2 हजार रुपये कर दिया गया है।

एससी/एसटी/विकलांग वर्ग के शुल्क में 300 रुपये की बढ़ोत्तरी कर एक हजार रुपये किया गया है। दोनों परीक्षा देने पर सामान्य व ओबीसी वर्ग के शुल्क में 600 रुपये बढ़ाकर 3 हजार रुपये और एससी/एसटी/ विकलांग वर्ग के परीक्षा शुल्क में 300 रुपये बढ़ाकर 1500 रुपये किया गया है।

ऑनलाइन का शुल्क अपेक्षाकृत कम : ऑनलाइन परीक्षा देने के इच्छुक छात्रों के लिए शुल्क ऑफलाइन की अपेक्षा कम है और यहां बढ़ोतरी भी कम ही हुई है। सामान्य वर्ग के तहत ऑनलाइन बीटेक/बीआर्क में से किसी एक परीक्षा देने के शुल्क में 100 रुपये बढ़ोतरी कर इसे 500 रुपये किया गया है। इसी प्रकार एससी/एसटी/विकलांग वर्ग के लिए एक परीक्षा देने के फीस में 50 रुपये का इजाफा कर इसे 250 रुपये किया गया है। दोनों परीक्षा देने के इच्छुक छात्रों को सामान्य व ओबीसी वर्ग के तहत 1100 और एससी/एसटी/विकलांग वर्ग के लिए 550 रुपये का भुगतान करना होगा(दैनिक भास्कर,नागपुर,17.11.11)

1 टिप्पणी:

  1. विदेशी केंद्रों के लिए अधिक नहीं बढ़ी क्योंकि वे गरीब तो हैं नहीं। वरना भारत से बाहर का केद्र नहीं चुनते। डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड…आदि में स्टेट बैंक ही शामिल नहीं है। धन्य हैं ये लोग…

    उत्तर देंहटाएं

टिप्पणी के बगैर भी इस ब्लॉग पर सृजन जारी रहेगा। फिर भी,सुझाव और आलोचनाएं आमंत्रित हैं।